Saturday, May 25, 2019

प्रियंका गांधी ने अपने पहले भाषण में मोदी सरकार को लिया आड़े हाथ

  • Updated on 3/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस पार्टी में पद संभालने के बाद प्रियंका गांधी ने पहली बार गुजरात में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने लोगों से सही मुद्दों पर बात करने को कहा। प्रियंका ने कहा कि अगले दो महीनों में कई मुद्दे उछाले जाएंगे लेकिन आपको जागरूक रहना है।

राकेश अस्थाना को लेकर क्रिश्चियन मिशेल ने अदालत में किया बड़ा दावा

अंबानी की कंपनी के कर्जदाताओं को अपीलीय न्यायाधिकरण ने लगाई फटकार

कांग्रेस महासचिव और पूर्वी यूपी की प्रभारी पद संभालने बाद प्रियंका गांधी ने गुजरात में पहली बार चुनावी रैली में केंद्र की मोदी सरकार को इशारों-इशारों में आड़े हाथ लिया। अपने नपे-तुले भाषण में प्रियंका ने महात्मा गांधी, प्रेम और अहिंसा का जिक्र करते हुए सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधा। 

माल्या की कंपनी के पास पड़े 1,025 करोड़ रुपये के शेयर UBL को ट्रांसफर

भाजपा पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, यह देश जनता का है, जो लोग बड़ी-बड़ी बातें करते हैं, उनसे पूछिए कि जो 15 लाख आपके खाते में आने थे, वे कब आएंगे। 2 करोड़ नौकरियों के वादे का सरकार ने क्या किया? प्रियंका ने कहा कि आने वाले दिनों में बेकार के मुद्दे उठाए जाएंगे, लेकिन इस बीच आपको जागरूक होना है, क्योंकि इस चुनाव के जरिए आप अपना फ्यूचर चुनने जा रहे हैं। 

शरद पवार के चुनाव नहीं लड़ने पर फडणवीस ने कसा करारा तंज

प्रियंका ने अपने पहले भाषण में कहा, 'मुझे पता था कि आज बैठक है, लेकिन मन में सोचा था कि शायद स्पीच देने की जरूरत नहीं पड़े। मैं भाषण नहीं देती हूं, आपसे दो शब्द कहती हूं जो मेरे दिल में है।' उन्होंने आगे कहा, 'मैं पहली बार गुजरात आई हूं और पहली बार साबरमती के उस आश्रम में गई, जहां से महात्मा गांधी ने इस देश की आजादी का संघर्ष शुरू किया था।' 

केजरीवाल ने चुनावी तैयारियों को लेकर AAP नेताओं के साथ कसी कमर

उन्होंने कहा कि आज नफरतों का दौर है, आज संस्थाओं को ध्वस्त किया जा रहा है, आज युवा, किसान, महिलाएं परेशान हैं। इस बार चुनाव में मुद्दों पर हो, आप सवाल करिए कि क्या हुआ सभी चुनावी वादों का, ये देश आप सबसे बनता है। 

बिशन सिंह बेदी बोले- धोनी की अनुपस्थिति में कोहली दिखते हैं असहज

प्रियंका ने कहा, 'मैं दिल से आपसे कहना चाहती हूं कि इससे बड़ी कोई देशभक्ति नहीं है कि आप जागरूक बनें। आपकी जागरूकता एक अस्त्र है। आपका वोट एक हथियार है लेकिन यह ऐसा हथियार है जिससे किसी को चोट नहीं पहुंचानी, किसी को दुख नहीं देना, किसी को नुकसान नहीं पहुंचाना। यह ऐसा हथियार है जो आपको मजबूत बनाएगा। आपको बहुत गहराई से सोचना पड़ेगा कि यह चुनाव क्या है?' 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.