Tuesday, Jun 25, 2019

संसदीय समिति का Twitter CEO को पेश होने का निर्देश, AAP ने उठाए सवाल

  • Updated on 2/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सूचना प्रौद्योगिकी विभाग से संबंधित संसद की स्थायी समिति ने ने ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) जैक डोरसी को 25 फरवरी को समिति के समक्ष उपस्थित होने को कहा है। समिति के अध्यक्ष अनुराग सिंह ठाकुर ने सोमवार को यह जानकारी दी।

AAP आयोजित विपक्ष की रैली में भाग लेंगी ममता, मोदी-शाह होंगे निशाने पर

आर्थिक आधार पर आरक्षण : सुप्रीम कोर्ट ने मांगा मोदी सरकार से जवाब

ट्वीटर के मुख्य कार्यकारी समिति के समक्ष उपस्थित होना था लेकिन वह उपस्थित नहीं हुए। सूत्रों के अनुसार समिति के सदस्यों ने इसे गंभीरता से लिया है। समिति के अध्यक्ष एवं भारतीय जनता पार्टी के सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि ट्विटर प्रमुख एवं अन्य प्रतिनिधियों को 25 फरवरी को पेश होने के लिये कहा गया है। 

मानहानि मामले में अजित डोभाल के बेटे के समर्थन में दो गवाह, बयान दर्ज

ट्विटर के स्थानीय कार्यालय के प्रतिनिधि समिति के समक्ष पेश होने के लिये संसद की एनेक्सी में पहुंचे थे लेकिन उन्हें बैठक में नहीं बुलाया गया। समिति की बैठक पहले सात फरवरी को होने वाली थी। ट्विटर सीईओ तथा अन्य अधिकारियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिये इसे टालकर बैठक की तिथि 11 फरवरी कर दी गयी थी।

अखिलेश का PM मोदी पर तंज, बोले- ये दूसरों की थाली पर हक जमाने वाले लोग हैं

इस बीच, आम आदमी पार्टी के विधायक सौरभ भारद्वाज ने ट्विटर सीईओ की पेशी को लेकर सवाल भी उठा दिए हैं। भारद्वाज ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'ट्विटर सीईओ को बुलाना राइट विंग की मदद करना है और दुनिया के लोकतंत्र के सामने हंसी का पात्र बनाने जैसा है। भाजपा और इसकी केंद्रीय सरकार को विधायी कमेटियों पर अपने दोहरे चरित्र पर स्पष्टीकरण देना चाहिए।' 

गुर्जरों के आंदोलन से परेशान हैं रेल यात्री, बैंसला ने दी सरकार को चेतावनी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.